काव्य

मेरी बेबाक़ी

कभी कभी मेरी बेबाक़ी, मेरी मुश्किल का सबब हो जाती है! लोग समझते है कुछ और ,मुझे कहना कुछ और होता है!मैंने बहुत पहले ही सीख लिया ना कहना, अब हाँ कहना मुश्किल है, आ गया अब खुद के लिए जीना लौटना अब इन राहों से मुश्किल है! ऐसे ही हूँ मैं ऐसा ही है… Continue reading मेरी बेबाक़ी

Blog

Abstinence

"Self-control is the chief element in self-respect, and self-respect is the chief element in courage." Abstinence is a state of self-control between free enjoyment and complete renunciation. It is considered essential for success in practical life and spiritual practice. Spiritually restrained is the quality of the soul. It is considered to be the innate nature… Continue reading Abstinence